Army insults, Hindustan does not save

सेना का अपमान, नहीं सहेगा हिंदुस्तान।

देश की सुरक्षा के लिए जीवन न्यौछावर करने को हमेशा तैयार रहती है भारतीय सेना।
उसी सेना के सेना प्रमुख के बयान को तोड़ मरोड़ कर राजनैतिक मुद्दा बनाने की मूर्खतापूर्ण कोशिश करना, कांग्रेस की हताश मानसिकता का प्रमाण है।

सेना प्रमुख बिपिन रावत जी का बयान.. देश की सुरक्षा के लिए था। पूरा देश उनका समर्थन करता है।
अपने काले कारनामों से पहले ही गर्त में गिर चुकी कांग्रेस अगर इसे ही राजनीती समझती है, तो उसका कोई भविष्य नहीं है।
या फिर शायद, कांग्रेस के नेता, अपने बचकाने नेतृत्व और निरंतर मिलती हार से, अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं।
वजह जो भी हो, कांग्रेस के हथकंडे अब अक्षम्य होते जा रहें हैं, अब भी वक्त है, उन्हें राजनीती का अर्थ नहीं पता, तो फिर से पढ़ाई करें।

राजनीती देश की सेवा के लिए करो, खुद के स्वार्थ के लिए नहीं।  

जय हिन्द!