Khabar Akbaruddin Owaisi for the country!

देश के लिए खतरा अकबरुद्दीन ओवैसी!

एक तरफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष मौलाना कालवे सादिक जैसे महान और ऊँची सोच रखने वाले लोग हैं जिन्होंने मुसलमानों से बकरीद के मौके पर गाय की कुर्बानी न देने की अपील की थी और दूसरी तरफ अकबरुद्दीन ओवैसी जैसे लोग हैं जो न सिर्फ एक बहुत बड़े समूह को गाय खाने के लिए उत्तेजित कर रहे हैं बल्कि हिन्दू भाइयों व हिन्दू धर्म के विरुद्ध भड़काऊ भाषण देकर देश द्रोही कूटनीति अपना रहे हैं.

उन्होंने अपने भाषण में भारत की ऐतिहासिक इमारतों से लेकर हिन्दू भगवानों तक का अपमान किया है. मुझे नहीं लगता कि ऐसे भाषण कोई भी भारतवासी दे सकता है फिर चाहे वो हिन्दू हो या मुस्लिम. हम सभी भारतवासियों को बचपन से सभी धर्मों का सम्मान व सभी देशवासियों की भावनाओं का मान रखने के शिक्षा मिलती है और इसही भावना के साथ आज भारत ‘अनेकता में एकता’ के लिए जाना जाता है. अकबरुद्दीन ओवैसी ने न सिर्फ सभी देशवासियों की भावनाओं को आहत किया है बल्कि देश में सांप्रदायिक दंगे भड़काने की कोशिश की है.

मैं न्याय व्यवस्था और सरकार से यही अपील करूँगा कि अकबरुद्दीन को पागल खाने में बंद कर दिया जाए क्यूंकि ऐसे लोग सम्पूर्ण देश के लिए खतरनाक हैं.